Home Featured राष्ट्रीय बालिका दिवस पर डीएम ने बेटियों के साथ भेदभाव न करने की दिलाई शपथ।
January 24, 2024

राष्ट्रीय बालिका दिवस पर डीएम ने बेटियों के साथ भेदभाव न करने की दिलाई शपथ।

दरभंगा: समाहरणालय परिसर अवस्थित सभागार में डीएम राजीव रौशन की अध्यक्षता में राष्ट्रीय बालिका दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर डीएम ने कहा कि लड़कियां आज किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं हैं। समाज को जरूरत है कि लड़की-लड़के में भेदभाव न करे। डीएम ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान एवं बेटियों पर गर्व करने एवं भेदभाव नहीं करने की शपथ भी दिलायी।

Advertisement

डीएम ने कहा कि राष्ट्रीय बालिका दिवस भारत में हर साल 24 जनवरी को भारतीय समाज में महिलाओं के अधिकार, उनकी शिक्षा के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि सामाजिक समरसता और राज्य के विकास के लिए यह अवसर संकल्प लेने का है कि आंतरिक मजबूती महिला सशक्तिकरण है, इसे और नई ऊर्जा प्रदान की जाए। देश में महिलाओं को पुरुष के बराबर मत देने एवं सरकार बनाने का अधिकार है।

Advertisement

डीडीसी प्रतिभा रानी ने बच्चियों के अधिकारों, महिला सशक्तीकरण के प्रति जागरूकता एवं बच्ची के जन्म से लेकर परिवार में उनकी स्थिति, शिक्षा के अधिकार और करियर में महिलाओं के विकास में आने वाली समस्याओं को दूर करने का संदेश देते हुए कहा कि सरकार के प्रयास से महिलाओं के प्रति संवेदनशीलता बढ़ी है। अब अधिक संख्या में बच्चियां शिक्षित हो रही हैं, कन्या भ्रूण हत्या में कमी आई है। इससे पूर्व बालिकाओं की साइकिल रैली एवं मोबाइल जागरूकता वैन को डीडीसी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। कार्यक्रम के दौरान बेटी जन्मोत्सव के अवसर पर दरभंगा सदर, हायाघाट, बहादुरपुर, दरभंगा ग्रामीण एवं हनुमाननगर से आए उन अभिभावकों को प्रशस्ति पत्र, स्वेटर एवं बेबी किट से सम्मानित किया गया जिन्होंने अपने बच्चियों का पूर्ण टीकाकरण करवा लिया है।

Advertisement

इस अवसर पर हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया। कार्यक्रम के बाद समाहरणालय परिसर में सम्मानित बच्चियों के नाम पौधारोपण किया गया। कार्यक्रम में यूनिसेफ से ओंकारचन्द्र, श्याम कुमार सिंह, सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी, सभी प्रखंड से आई महिला पर्यवेक्षिका, वन स्टॉप सेंटर के सभी कर्मी, जिला स्कूल, एमएल एकेडमी, रामानंद मिश्र बालिका उच्च विद्यालय की छात्राओं, शिक्षकों समेत लगभग दो सौ प्रतिभागियों ने भाग लिया। संचालन वन स्टॉप केंद्र प्रशासक अजमतुन निशा तथा धन्यवाद ज्ञापन ऋषि कुमार ने किया।

Share

Check Also

पोलो मैदान में देर रात तक मिथिला के गीत-संगीत एवं संस्कृति की बहती रही रसधार।

दरभंगा: दरभंगा महोत्सव के पांचवें संस्करण का शनिवार को सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ समापन ह…