Home Featured पटना के बाद अब दरभंगा के लोगों को मिलेगी कैब सेवा, परिवहन विभाग के सचिव ने की बैठक ।
2 weeks ago

पटना के बाद अब दरभंगा के लोगों को मिलेगी कैब सेवा, परिवहन विभाग के सचिव ने की बैठक ।

दरभंगा: पटना के लोगों को ओला, उबर और रैपिडो टैक्सी कैब सर्विस उपलब्ध करवा रही है। अब इसका बिहार में विस्तार किया जा रहा है। गया, भागलपुर और दरभंगा समेत 13 जिलों के लोगों को भी बहुत जल्द इन कंपनियों के टैक्सी कैब सर्विस की सुविधाएं उनके क्षेत्र में मिलने लगेगी। इसके लिए परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने संबंधित सभी एग्रीगेटर कंपनियों के प्रतिनिधियों को निर्देश दिया है।

Advertisement

सरकार की कोशिश है कि यह सेवा बिहार के सभी 38 जिलों में उपलब्ध कराई जाए। इसकी शुरुआत दो अलग-अलग चरणों में होगी। पहले चरण में 13 जिलों के लोगों को सुविधा मिलने वाली है। जिसमें दरभंगा, भागलपुर, पूर्णिया, गया, मुजफ्फरपुर, वैशाली, सारण, मुंगेर, नालंदा, बेगुसराय, रोहतास, कटिहार और किशनगंज शामिल है। इन जिलों में बाइक और टैक्सी सेवा शुरू करने का निर्णय लिया गया है।

इसके बाद दूसरे चरण में बाकी के 25 जिलों के लोगों को टैक्सी कैब सर्विस की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। इस संबंध में शनिवार को परिवहन सचिव ने बोधगया में IIM स्थित परिवहन कार्यालय के काम का रिव्यू करने के साथ ही अधिकारियों के साथ एक मीटिंग की थी। इसी दौरान सभी एग्रीगेटर प्रतिनिधियों निर्देश दिया गया। रविवार को संबंधित विभाग की ओर से एक आधिकारिक बयान जारी किया गया है।

मीटिंग में परिवहन सचिव ने संबंधित जिलों के जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया है कि कैब में चलने वाली गाड़ियों के लिए कैंप लगवाएं। उनका कन्वर्जन कराएं। गाड़ियों का फिटनेस चेक करें और फिर परमिट दें। परिवहन सचिव ने कहा कि कैब कंपनियां बिहार के शहरों में अपनी प्रीपेड बाइक और टैक्सी सेवाएं जल्द शुरू करें। ताकि पटना के अलावा भी दूसरे शहरों में लोगों को कहीं भी आने-जाने के दौरान गाड़ियों की सुविधाएं मिल सके।

Advertisement

उन्होंने आगे कहा कि ओला, उबर, सवारी मिथिला की और रैपिडो जैसी कंपनियों की सर्विस मिलने से यात्रियों के लिए सुविधा बढे़गी। साथ ही रोजगार के नए अवसर भी मिलेंगे। बिहार के लोगों को सुरक्षित, सुगम और किफायती यात्रा का अवसर मिलेगा। यात्री ओला और उबर के माध्यम से अपनी यात्रा को अधिक सुरक्षित, आरामदायक और सरल बना सकेंगे। इसके अलावा बिहार आने वाले टूरिस्टों के लिए गया-बोधगया के अलावा दूसरे शहरों में भी रेंटल कार की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए भी कदम उठाए जा रहे हैं।

Share

Check Also

जीतन सहनी हत्याकांड में अभी और खुलेंगे राज, आरोपी को रिमांड पर लेने की तैयारी में पुलिस।

दरभंगा: वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी के पिता जीतन सहनी की हत्या मामले में अभी कई राज खुलने ब…