Home Featured सालों बाद पुन: दरभंगा से लौकहा बाजार के लिए शीघ्र सीधी ट्रेन सेवा के बहाल होने के बढ़े आसार।
June 16, 2024

सालों बाद पुन: दरभंगा से लौकहा बाजार के लिए शीघ्र सीधी ट्रेन सेवा के बहाल होने के बढ़े आसार।

दरभंगा. सालों बाद पुन: दरभंगा से लौकहा बाजार के लिए शीघ्र सीधी ट्रेन सेवा के बहाल होने के आसार बढ़ गये हैं. अगर समस्तीपुर रेल मंडल स्तर से तत्परता दिखायी गयी तो दरभंगा-लौकहा रेल खंड पर आनेवाले महीने में सालों से बंद ट्रेन परिचालन आरंभ हो जायेगा. इससे बड़ी संख्या में यात्रियों को लाभ होगा. प्रमंडल के सीमावर्ती क्षेत्र का रेल से जुड़ाव एक बार फिर से स्थापित हो जायेगा. हालांकि दरभंगा-लौकहा बाजार रेलखंड पर फिलहाल झंझारपुर तक ट्रेन परिचालन हो रहा है. झंझारपुर से आगे गाड़ी नहीं चल रही. यह स्थिति तब है जब इस खंड पर आमान परिवर्तन का कार्य पूर्ण हो जाने के बाद सीआरएस निरीक्षण हो चुका है, जबकि आमतौर पर सीआरएस इंस्पेक्शन के चंद दिनों बाद ही इस तरह की सुविधा बहाल कर दी जाती है. यहां तो छह महीने से अधिक का वक्त गुजर चुका है.

Advertisement

उल्लेखनीय है, मीटर गेज के जमाने में दरभंगा से लौकहा बाजार के लिए सीधी ट्रेन सेवा बहाल थी. सीमावर्त्ती इलाके के यात्रियों के साथ बड़ी संख्या में लोग नेपाल जाने के लिए भी इस गाड़ी से सफर किया करते थे. इसके बाद दरभंगा से सकरी के बीच आमान परिवर्त्तन का कार्य शुरू हुआ तो मीटर गेज की ट्रेनों का परिचालन दरभंगा से बंद हो गया और उसके साथ ही लौकहा के लिए यहां से सीधी ट्रेन सेवा भी बंद कर दी गयी. इसके बाद सकरी से मीटर गेज यानी छोटी लाइन की ट्रेन लोकहा के लिए चलती रही.

Advertisement

गत 27 मई 2017 को गेज परिवर्त्तन के लिए सकरी-झंझारपुर-लौकहा रेल खंड पर गाड़ियों का आवागमन बंद कर दिया गया. प्रथम फेज में झंझारपुर तक आमान परिवर्तन का कार्य पूर्ण किया गया. झंझारपुर से लौकहा बाजार तक आमान परिवर्तन का कार्य पूरा कर लिया गया है. पटरी बिछा दी गयी है. आवश्यक स्थानों पर पुल-पुलिये भी तैयार हो गये हैं. प्लेटफॉर्मों के ऊंचीकरण का कार्य भी लगभग पूरा कर लिया गया है.

Advertisement

बताते चलें कि पिछले ही साल 2023 में सीआरएस निरीक्षण का कार्य संपन्न हो चुका है. बताया जाता है कि सीआरएस निरीक्षण के दौरान कुछ कमियां पायी गयी थी, जिसे दूर करने के लिए पदाधिकारी के द्वारा निर्देश दिये गये थे, जिसे आज तक पूरा नहीं किया जा सका है, लिहाजा ट्रेन परिचालन ठप है. इन कमियों को दूर करने के लिए समस्तीपुर रेल मंडल के संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को कई बार पत्र लिखा गया, लेकिन कोई फलाफल नहीं मिला.

इस बीच गत 12 जून को मंडल परिचालन प्रबंधक ने एक बार फिर से पत्र लिखा है. इसमें मंडल के सीनियर डीइएन को-ऑर्डिनेशन, सिनीयर डीसीएम व सिनीयर डीएसटीइ को अपने-अपने विभाग से जुड़ी कमियों का दूर करते हुए जरूरी व्यवस्थात्मक प्रबंध करते हुए कर्मियों की प्रतिनियुक्ति के बाद जानकारी अतिशीघ्र उपलब्ध कराने के लिए कहा गया है. इसमें सीआरएस के तीन पत्रों का हवाला भी दिया गया है. साथ ही पूर्व मध्य रेल स्तर से इस सेक्शन पर शीघ्र परिचालन प्रारंभ किये जाने की मंशा का इजहार किया गया है. अगर इस पत्र के आलोक में सभी जरूरी प्रबंध कर लिये जाते हैं तो आनेवाले दिनों में दरभंगा से लौकहा बाजार तक जल्द ही सीधी ट्रेन सेवा एक बार फिर से बहाल हो जायेगी, जिसका लाभ यात्रियों के बड़े समूह को मिलेगा.

Share

Check Also

जीतन सहनी हत्याकांड में अभी और खुलेंगे राज, आरोपी को रिमांड पर लेने की तैयारी में पुलिस।

दरभंगा: वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी के पिता जीतन सहनी की हत्या मामले में अभी कई राज खुलने ब…