Home Featured संस्कृत विश्वविद्यालय के कर्मियों को संस्कृत बोलने का दिया गया प्रशिक्षण।
June 13, 2024

संस्कृत विश्वविद्यालय के कर्मियों को संस्कृत बोलने का दिया गया प्रशिक्षण।

दरभंगा: कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय के कर्मी अब कुछ ही दिनों में फरार्टे से संस्कृत बोलने लगेंगे। मुख्यालय के दरबार हॉल में उन्हें रोज दो घण्टे का संस्कृत में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। गुरुवार को भी 7वें दिन प्रशिक्षण जारी रहा। कर्मचारी अब आपस मे थोड़ी-थोड़ी संस्कृत बोलने लगे हैं। आज के प्रशिक्षण में उन्हें अग्रत:, पुरत:, पृष्ठत:, इत:, तत:, यत्र, तत्र आदि पाठ्य बिन्दुओं का अभ्यास कराया गया।

Advertisement

उक्त जानकारी देते हुए जनसम्पर्क पदाधिकारी निशिकांत प्रसाद सिंह ने बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम को कुलपति प्रो. लक्ष्मी निवास पांडेय काफी गंभीरता से ले रहे हैं। यही कारण है कि अपनी व्यस्तता के वाबजूद वे रोज करीब 2 घण्टे तक प्रशिक्षण के दौरान कर्मचारियों के बीच बैठते हैं और जरूरत पड़ने पर प्रशिक्षक व कर्मियों को सुधारात्मक सलाह भी देते हैं।

Advertisement

वहीं प्रशिक्षण प्रमुख, बिहार देव निरंजन दीक्षित ने आज कर्मचारियों को बड़े ही सरल व सुगम्य तरीके से संस्कृत बोलना सिखाया। साथ ही उन्होंने कई ऐसे पौराणिक व आधुनिक तौर तरीके बताए जिसे आत्मसात कर कर्मचारी बिना अतिरिक्त मानसिक भार लिए सहजता से संस्कृत बोल सकते हैं। उल्लेखनीय है कि डॉ. रामसेवक झा के संयोजकत्व में आयोजित इस कार्यक्रम में कर्मचारियों के साथ डीन डॉ.शिवलोचन झा, सीसीडीसी डॉ. दिनेश झा, शिक्षाशास्त्र निदेशक डॉ. घनश्याम मिश्र, कुलानुशासक डॉ. पुरेंद्र वारिक, उप कुलसचिव डॉ. सुनील कुमार झा, विकास पदाधिकारी डॉ. पवन कुमार झा आदि मौजूद थे।

Advertisement

Share

Check Also

जीतन सहनी हत्याकांड में अभी और खुलेंगे राज, आरोपी को रिमांड पर लेने की तैयारी में पुलिस।

दरभंगा: वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी के पिता जीतन सहनी की हत्या मामले में अभी कई राज खुलने ब…