Home Featured पिंडारूछ दर्शन पुस्तक का हुआ विमोचन।
4 weeks ago

पिंडारूछ दर्शन पुस्तक का हुआ विमोचन।

दरभंगा: केवटी प्रखंड क्षेत्र के पिंडारुछ गांव के संस्कृत उप शास्त्री पिंडारुछ कॉलेज परिसर में शुक्रवार को सेवानिवृत्त न्यायाधीश रुक्मिणिकांत चौधरी की अध्यक्षता में पूर्व सरपंच शिवकांत झा के द्वारा रचित पुस्तक पिंडारूछ दर्शन का विमोचन समारोह पूर्वक बतौर मुख्य अतिथि अमलेंदु शेखर पाठक, श्रीश चौधरी, नीतू कुमारी, योगानंद झा ने किया। अमलेंदु शेखर पाठक ने कहा कि जिस मिट्टी पर कवीश्वर चंदा झा ने जन्म लिए खेले, कूदे, बड़े हुए उस मिट्टी पर आकर धन्य हूं। आगे कहें की विमोचन हुए पुस्तक में पिंडारूच का इतिहास, संस्कृति, वातावरण, सामाजिक चेतना राजनीतिक चेतना, गांव का खानपान, रहन सहन, प्राचीन काल से लेकर अबतक का वर्णन इस पुस्तक के माध्यम से बतौर गांव का इतिहास समेट कर एकत्रित किया गया है। इस पुस्तक में एक अध्याय ऐसा है जिसका नाम है आंखिक नोर जो वैश्विक महा मारी कोरोना काल में रूह कपा देने वाला दृश्य है। पुस्तक के रचैता 80 वर्षीय शिवकांत झा के आंगन में कोरोना से पत्नी की मौत, पुत्र कीमौत, दामाद की मौत सभी शव एक आंगन में एक साथ रखे थे। बांकी घर के सभी सदस्य कोरोना पॉजिटिव थे। उस समय भी शिवकांत झा ने हिम्मत नहीं हारे।

Advertisement
Share

Check Also

जीतन सहनी हत्याकांड में अभी और खुलेंगे राज, आरोपी को रिमांड पर लेने की तैयारी में पुलिस।

दरभंगा: वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी के पिता जीतन सहनी की हत्या मामले में अभी कई राज खुलने ब…