Home Featured डीएम-एसएसपी ने चुनाव को लेकर की ब्रीफिंग, सेक्टर पदाधिकारियों को बताया उनका दायित्व।
2 weeks ago

डीएम-एसएसपी ने चुनाव को लेकर की ब्रीफिंग, सेक्टर पदाधिकारियों को बताया उनका दायित्व।

दरभंगा: बिहार विधान सभा आम निर्वाचन, 2020 के लिए शनिवार को डीएमसीएच के ऑडिटोरियम में सेक्टर पदाधिकारियों, भीभीटी, भीएसटी, एसएसटी, एफएसटी, एईओ एवं एटी के लिए आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला निर्वाचन पदाधिकारी डॉ0 त्यागराजन एसएम ने कहा कि जिन्हें जो दायित्व दिया गया है, वे अपने दायित्वों का निर्वहन अच्छी तरह से करें। किसी प्रकार की चूक नहीं होनी चाहिए। इस चुनाव को पूरा देश एवं दुनिया देख रहा है।
उन्होंने सभी सेक्टर पदाधिकारियों व पुलिस पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि वे अपने अपने क्षेत्र से संबंधित जो भी सूचना देनी है, वह सूचना ससमय दे दें, यदि आपके द्वारा पूर्व में कोई सूचना नहीं दी जाती और मतदान के दिन किसी प्रकार की विधि व्यवस्था की समस्या उत्पन्न होती है तो इसके लिए आपको पूर्णतः जिम्मेवार माना जाएगा। कोविड-19 के लिए जारी गाईडलाइन का मतदान केंद्रों पर शत प्रतिशत अनुपालन कराना तथा मतदान के लिए सारी व्यवस्था सुनिश्चित कराना, एक्स्ट्रा ईवीएम को ले जाना एवं मतदान केंद्र पर ईवीएम खराब होने की स्थिति में ईवीएम ठीक करना, यदि ठीक करने नहीं आता हो तो खराब ईवीएम रिप्लेस करना, इन सबों की बारीकी से जानकारी प्राप्त कर लें। ईवीएम खराब होने पर उसके किस पार्ट को अलग करके कैसे बदला जाएगा, ईभीएम के विभिन्न पार्ट को कैसे जोड़ा जाएगा, सीयू का बैटरी डिस्चार्ज हो गया हो, तो बैटरी कैसे रिप्लेस किया जाएगा, इन सबों की अच्छी जानकारी सेक्टर पदाधिकारी को होनी चाहिए। उन्हें ईभीएम को कैसे ले जाना है, रिप्लेस ईवीएम को कैसे लाना है, कहां रखना है, इन सबों के संबंध में बारीकी से जानकारी दी गई।
वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम ने पुलिस पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि जो भी पुलिस पदाधिकारी सेक्टर पदाधिकारी एवं विभिन्न टीमों के साथ लगाए गए हैं, वे अपनी ड्यूटी अच्छी तरह से समझ लें और पूरी संजीदगी से अपनी ड्यूटी करें। उन्होंने एसएसटी(फ्लाइंग स्क्वायड टीम) एवं एफएसटी को आज ही से चेकिंग शरू कर देने का निर्देश दिया । खासकर एसएसटी (स्टेटिक सर्विलांस टीम) को कहा गया कि जहां भी चेकिंग स्थल निर्धारित किए गए हैं, वहां सभी वाहनों की गहन जांच की जाए। जांच में किसी प्रकार की चूक नहीं होनी चाहिए और प्रतिदिन जांच प्रतिवेदन उपलब्ध कराया जाए और जांच प्रतिवेदन नील न हो, इस पर पूरा ध्यान देंगे।
नोडल पदाधिकारी व्यय एवं अनुश्रवण कोषांग देवानंद शर्मा द्वारा इसके उपरांत सभी को व्यय लेखा से संबंधित जानकारी दी गई।

Share

Check Also

ओमेगा के 5 बच्चों ने नीट 2020 के रिजल्ट में लहराया परचम।

दरभंगा: नीट 2020 के रिजल्ट में ओमेगा स्टडी सेंटर दरभंगा के बच्चों ने दिखाया अपना जलवा साथ …