Home Featured नहीं रहे दरभंगा के वरिष्ठ पत्रकर देवेंद्र कुमार ठाकुर, हृदय गति रुकने से निधन। 
April 8, 2024

नहीं रहे दरभंगा के वरिष्ठ पत्रकर देवेंद्र कुमार ठाकुर, हृदय गति रुकने से निधन। 

दरभंगा: तीन दशकों से विभिन्न मीडिया संस्थानों में पत्रकारिता कर रहे हर दिल अजीज वरिष्ठ पत्रकार देवेंद्र कुमार ठाकुर का निधन रविवार की देर रात हृदय गति रुकने से एक निजी अस्पताल मे हो गई देर रात उन्हें दिल का दौरा पड़ने के बाद एक अस्पताल ले जाया गया,जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

Advertisement

उनके निधन की खबर सुनते ही पत्रकारों समेत जिले भर में शोक की लहर दौड़ गई।उनके आवास पर पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा गया।जहां कई गणमान्य लोगों के साथ साथ बड़ी संख्या में पत्रकार गण मौजूद रहे। उनके अंतिम दर्शन के लिए सांसद गोपाल जी ठाकुर पूर्व मंत्री सह ग्रामीण विधायक ललित यादव, विधायक संजय सरावगी और हायाघाट के पूर्व विधायक अमरनाथ गामी,राजद के पूर्व जिला अध्यक्ष उमेश राय,भाकपा माले के जिला सचिव बैधनाथ यादव,उप मेयर नाजिया हसन,राजद नेता डॉ कुमार गौरव समेत कई हस्तियां शामिल हुए।

Advertisement

स्वर्गीय देवेंद्र कुमार ठाकुर ने अपनी पत्रकारिता 1991-1992 मे आर्यावर्त दैनिक समाचार पत्र से शुरू की। उसके बाद संध्या प्रहरी,प्रातः कमल,नबिहार टाइम्स,प्रातः किरण समेत कई अखबारों में दरभंगा जिले के लिए रिपोर्टिंग की।वे फिलहाल ग्लोबल इंडिया टीवी न्यूज़ के बिहार स्टेट हेड के पद पर काम कर रहे थे।

उनकी मृत्यु की खबर से जिला प्रशासन मे भी शोक की लहर दौड़ गई।जिलाधिकारी राजीव रौशन ने श्री ठाकुर के मृत्यु पर जिला जनसंपर्क कार्यालय में शोकसभा आयोजित करते हुए कहा कि श्री ठाकुर की मृत्यु से जिले में पत्रकार समुदाय एवं सामाजिक जगत में भारी क्षति हुई है।वे मिलनसार प्रवृत्ति हंसमुख व्यक्ति वे।वे सदैव न्याय के लिए लड़ते रहते थे।

Advertisement

वहीं उप निदेशक सह जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी सत्येंद्र प्रसाद ने कहा कि श्री ठाकुर की निधन पत्रकारिता जगत के लिए अपूरणीय क्षति है। सत्येंद्र प्रसाद ने कहा कि जिला प्रशासन हर संभव मदद के लिए उनके परिवार के साथ है।वे हमेशा अपना अनुभव पत्रकारों के साथ साझा करते रहते थे।

Advertisement

शोक सभा में बड़ी तादाद में पत्रकार गण उपस्थित थे।

वहीं पार्थिक शरीर को उनके रहमगंज स्थित आवास से अंत्येष्टि के लिए भिगो स्थित शमशान घाट ले जाया गया।मुखाग्नि पुत्र अमित कुमार ने दिया।वे अपने पीछे पत्नी, एक बेटा, बेटी, नाती नतनी और पोता पोती समेत भरा पुरा परिवार छोड़ गए हैं।

Share

Check Also

आचार संहिता खत्म होते ही पथ परिवहन निगम की ओर से दरभंगा को मिलेंगी 130 अत्याधुनिक बसें।

दरभंगा: दरभंगा प्रमंडल, जिला एवं शहर के लोगों की सुविधा के लिए बिहार राज्य पथ परिवहन निगम …