Home Featured 16 जनवरी से होगा पहले चरण का टीकाकरण।
January 11, 2021

16 जनवरी से होगा पहले चरण का टीकाकरण।

दरभंगा: कोविड-19 के विरुद्ध शरीर में प्रतिरोधक क्षमता उत्पन्न करने के लिए सभी व्यक्ति को टीका लगाया जाएगा। पहले चरण के टीकाकरण की शुरुआत 16 जनवरी 2021 से की जाएगी। पहले चरण के टीकाकरण में स्वास्थ्य कार्य से जुड़े लोगों का टीकाकरण (वैक्सीनेशन) करके किया जाएगा, जिनमें सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों, निजी क्लिनिकों व नर्सिंग होम, निजी हॉस्पिटल में कार्य करने वाले सभी चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों, आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका एवं आशा कार्यकर्त्ता शामिल हैं।

टीकाकरण पंजीकृत स्वास्थ्य कर्मियों का ही किया जाएगा। इसके लिए जिला स्वास्थ्य समिति, दरभंगा द्वारा स्वास्थ्य विभाग के पोर्टल पर सरकारी एवं निजी स्वास्थ्य कर्मियों चिकित्सकों के नाम एवं बायोडाटा संकलित कर डाटा अपलोड किया जा रहा है। निजी क्लिनिक व नर्सिंग होम के स्वास्थ्य कर्मियों के लिए डाटा अपलोड करने की अंतिम तिथि 12 जनवरी 2021 निर्धारित है।

यदि अभी तक किसी निजी चिकित्सक या निजी स्वास्थ्य कर्मी ने अपना नाम और डाटा अपलोड नहीं कराया है तो जिला स्वास्थ्य समिति दरभंगा के डीएमईओ ब्रजेश कुमार के मोबाइल नंबर 94710 07351 पर संपर्क कर अपना नाम व डाटा अपलोड करवा सकते हैं। वैसे सीधे स्टेट हेल्थ सोसाइटी के वेबसाइट www.statehealth societybihar.org पर भी अपने नाम की प्रविष्टि कर सकते हैं।

बैठक को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य विभाग, बिहार के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सभी जिलाधिकारियों को 16 जनवरी 2021 से किए जाने वाले पहले चरण के टीकाकरण की पूरी तैयारी कर लेने के निर्देश दिए।

बैठक को संबोधित करते हुए मुख्य सचिव, बिहार दीपक प्रसाद ने बताया कि कोविड-19 के टीके का असर 43 दिनों के बाद होता है। किसी व्यक्ति को पहले दिन के टीका लगाने के 28वें दिन पुनः टीका लगाया जायेगा और उसके 15 दिनों के बाद उसके शरीर में कोविड 19 के विरुद्ध एंटीबॉडी यानी प्रतिरोधक क्षमता विकसित होता है। इसलिए जिन्हें भी टीका लगाया जाएगा, उन्हें 45 दिनों तक कोविड-19 से बचाव के लिए निर्धारित गाइडलाइन का अनुपालन करते रहना होगा।

उन्होंने कहा कि इतने बड़े पैमाने पर टीकाकरण होनेवाला है। इसलिए हो सकता है कि एक दो लोगों में कुछ विपरीत शरीरिक प्रतिक्रिया भी प्रगट हो। लेकिन, इससे घबराने की कोई जरूरत नहीं है। अमूमन व्यापक पैमाने के सभी टीकाकरण में इस तरह के दृश्य सामने आते हैं। पोलियो के टीकाकरण में भी कभी कभी किसी बच्चे में विपरीत प्रतिक्रिया दिखती रही है और अभी भी यह दृश्य सामने आता है। इसका तात्पर्य यह नहीं है कि टीका में किसी प्रकार की कोई खराबी है।

उन्होंने इस कार्यक्रम से इंडियन मेडिकल एसोसिएशन, रोटरी क्लब, लायंस क्लब, एनएसएस, एनवाईके सहित सभी संस्थाओं को जोड़ने के निर्देश दिये।

दरभंगा से ऑनलाइन बैठक में जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम, डीएमसीएच के प्राचार्य डॉक्टर एसएन झा, सिविल सर्जन डॉ संजीव कुमार सिन्हा, उप निदेशक जन संपर्क नागेंद्र कुमार गुप्ता, डीएमसीएच के अधीक्षक डॉ मणि भूषण शर्मा, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ अमरेंद्र कुमार मिश्र,डब्ल्यूएचओ के डॉ वासव राज, केयर की जिला समन्वयक श्रद्धा झा, यूएनडीपी के  पंकज कुमार यूनिसेफ के ओमकार चंद्र एवं डीपीएम विशाल कुमार उपस्थित थे।

ऑनलाइन बैठक के उपरांत जिलाधिकारी दरभंगा डॉक्टर त्यागराजन एसएम ने कोविड-19 के पहले चरण के टीकाकरण के लिए व्यापक पैमाने पर तैयारी करने के निर्देश जिला स्वास्थ्य समिति दिया।

Share

Check Also

सांसद ने किया दस दिवसीय संस्कृत संभाषण शिविर का उद्घाटन।

दरभंगा: गुरुवार को दरभंगा के सांसद डॉ0 गोपालजी ठाकुर ने चंद्रधारी मिथिला महाविद्यालय के सं…