Home Featured जन अधिकार छात्र परिषद ने विश्वविद्यालय परिसर में दिया एकदिवसीय धरना।
3 weeks ago

जन अधिकार छात्र परिषद ने विश्वविद्यालय परिसर में दिया एकदिवसीय धरना।

दरभंगा: सोमवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जन अधिकार छात्र परिषद का एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय धरना स्थल पर विश्वविद्यालय अध्यक्ष कुणाल पांडे के नेतृत्व में हुआ। इसमें छात्र-छात्राओं ने अपनी मांगों को लेकर आवाज बुलंद की। परिषद का मांग थी कि दूरस्थ शिक्षा निदेशालय में व्याप्त अराजकता व छात्रों के आर्थिक शोषण की उच्चस्तरीय जांच कराकर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाय। साथ ही डीडीई के निदेशक अशोक मेहता को अविलंब बर्खास्त किया जाए। पीएचडी की रिक्त सभी सीटों पर अविलंब नामांकन लिया जाए तथा स्नातक एवं स्नातकोत्तर का परीक्षा फॉर्म भरने की तिथि अविलंब जारी की जाए। विवि द्वारा अविलंब शैक्षणिक कैलेंडर प्रकाशित किया जाए। स्नातकोत्तर विभाग में साइकिल शेड, पीने के लिए शुद्ध पानी व बंद पड़े शौचालय को अविलंब चालू किया जाए। वार्ता के लिए विश्वविद्यालय की तरफ से धरना स्थल पर कुलानुशासक तथा डीआर वन पहुंचे। लेकिन छात्रों से उनकी वार्ता असफल रही। इसके बाद छात्रों ने अपनी मांगों को लेकर कुलपति से वार्ता करने की मांग की। इसपर कुलानुशासक ने कहा कि कुलपति ऑनलाइन मीटिंग में चार विश्वविद्यालयों में व्यस्त हैं। इसके बाद कुलसचिव से छात्रों की वार्ता हुई। कुलसचिव ने मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया एवं दूरस्थ शिक्षा निदेशालय के संबंध में जांच कर कार्रवाई की बात कही। छात्र लिखित आश्वासन नहीं मिलने के कारण वार्ता से संतुष्ट नहीं दिखे। इसके बाद कुलपति से समय लेकर सूचित कर वार्ता कराने की बात कुलानुशासक ने कही। इसके बाद धरना समाप्त हुआ।

छात्र परिषद के वरीय प्रदेश उपाध्यक्ष सह प्रवक्ता दीपक झा ने कहा कि विवि में लगातार छात्रों का शोषण दोहन हो रहा है। शैक्षणिक व्यवस्था चौपट होती जा रही है। विवि प्रशासन शैक्षणिक माहौल बहाल करे तथा 75 प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति अनिवार्य करे। जो छात्र उपस्थिति पूरी नहीं करते उनका हर हाल में फॉर्म नहीं भरा जाए। धरने में परिषद के जिला अध्यक्ष दीपक स्टार, विभूति कुमार झा, परिषद सदस्य मारवाड़ी कॉलेज प्रकाश यादव, विवि प्रधान महासचिव जयशंकर कुमार, विवि आईटी सेल अध्यक्ष प्रकाश सिंह राजपूत, रोशन झा, अमित आर्यन, रेशमा कुमारी, गायत्री कुमारी, कंचन कुमारी, विवेक कुमार, धर्मवीर यादव, अरविंद कुमार, संजीत कुमार, विवेक कुमार, सचिन कुमार, मोहन यादव आदि थे।

Share

Check Also

19 से 25 मनेगा संस्कृत सप्ताह, पांच विशिष्ट विद्वान होंगे सम्मानित, छात्र भी होंगे पुरस्कृत।

दरभंगा: संस्कृत विश्वविद्यालय में 19 से 25 अगस्त तक संस्कृत सप्ताह का आयोजन होगा। इस दौरान…