Home Featured एबीभीपी ने डब्ल्यूआईटी के मूल स्वरूप को जीवंत रखने के लिए जनप्रतिनिधियों को भेजा स्मार पत्र।
2 weeks ago

एबीभीपी ने डब्ल्यूआईटी के मूल स्वरूप को जीवंत रखने के लिए जनप्रतिनिधियों को भेजा स्मार पत्र।

दरभंगा: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, दरभंगा की ओर से रविवार को ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय क्षेत्र अंतर्गत सभी विधायकों, सांसदों व विधान पार्षदों को महिला प्रौद्योगिकी संस्थान (डब्ल्यूआईटी) के मूल स्वरूप को जीवंत रखने के लिए व्हाट्सएप व ईमेल से स्मार पत्र भेजा। अभाविप की प्रदेश सह मंत्री पूजा कश्यप ने कहा कि स्मार पत्र के माध्यम से सभी जनप्रतिनिधियों को निवेदन किया गया है कि महिला सशक्तीकरण के उद्देश्य से भारत रत्न डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम और मिथिला के प्रसिद्ध वैज्ञानिक डॉ. मानस बिहारी वर्मा द्वारा मिथिला क्षेत्र के प्रत्येक गांव से एक छात्रा को इंजीनियर बनाने के संकल्प के संग खोले गए महिला प्रोद्योगिकी शिक्षण संस्थान को स्थापना के मूल स्वरूप में ही रहने दिया जाए।

निवर्तमान छात्रसंघ महासचिव प्रीति कुमारी ने कहा कि इस संस्थान से महिला शब्द को विलोपित नहीं किया जाए। पूरे बिहार में एकमात्र महिला प्रौद्योगिकी संस्थान है जिस संस्थान के शैक्षणिक एवं आधारभूत संरचना को सुदृढ़ कर इस संस्थान को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतिष्ठा दिलाने के लिए जनप्रतिनिधियों को आगे आने का निवेदन किया। प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रिया सिंह ने मिथिला क्षेत्र की सभी छात्राओं को इस महिला प्रौद्योगिकी संस्थान की रक्षा के लिए आगे आने का आह्वान किया।

नगर छात्रा प्रमुख अभिलाषा कुमारी ने कहा कि आज विद्यार्थी परिषद द्वारा यह भी निर्णय लिया गया कि आगामी 30 जुलाई को महिला छात्रा संसद का आयोजन विश्वविद्यालय क्षेत्रांतर्गत किया जाएगा जिसमें नारी सशक्तीकरण एवं डब्ल्यूआईटी के सुदृढ़ीकरण का प्रस्ताव पारित किया जाएगा।

Share

Check Also

19 से 25 मनेगा संस्कृत सप्ताह, पांच विशिष्ट विद्वान होंगे सम्मानित, छात्र भी होंगे पुरस्कृत।

दरभंगा: संस्कृत विश्वविद्यालय में 19 से 25 अगस्त तक संस्कृत सप्ताह का आयोजन होगा। इस दौरान…