Home Featured आपदा में अवसर का सटीक उदाहरण प्रस्तुत करते हुए हवाई कम्पनियों ने तीन से चार गुणा तक बढ़ाया किराया। 
1 week ago

आपदा में अवसर का सटीक उदाहरण प्रस्तुत करते हुए हवाई कम्पनियों ने तीन से चार गुणा तक बढ़ाया किराया। 

दरभंगा: एक तरह जहां अग्निपथ के विरोध में चल रहे हिंसक आंदोलन की वजह से दरभंगा जंक्शन से रेल सेवा अस्तव्यस्त हो गयी थी, वहीं हवाई यात्रा की तरफ यात्रियों का रुख बढ़ गया था। हवाई कम्पनियों ने भी आम लोगो की इस मजबूरी का फायदा उठाते हुए आपदा में अवसर का सटीक उदाहरण प्रस्तुत कर खूब कमाई की। हवाई जहाज के किरायों में तीन से चार गुणा तक बढ़ोतरी करके खूब फायदा कमाया।

हालांकि मंगलवार को अधिकतर ट्रेनों का परिचालन शुरू होने से लोगों को कुछ राहत मिली। लेकिन ट्रेनों के परिचालन की अनिश्चितता को देखते हुए काफी संख्या में लोगों ने अपनी यात्रा सुनिश्चित करने के लिए हवाई मार्ग से जाने का मन बना लिया। पिछले तीन दिनों के दौरान हवाई यात्रियों की संख्या में रोज तीन सौ से अधिक यात्रियों की वृद्धि हो गई है। इससे सभी दिशाओं में जाने वाले विमानों का भाड़ा आसमान छूने लगा है। दो दिन पूर्व तो कई यात्रियों ने 30 हजार से अधिक भाड़ा देकर कोलकाता तक की यात्रा तय की।

मंगलवार से ट्रेनों का परिचालन शुरू होने के बाद भी अगले दो दिनों तक कई उड़ानों का भाड़ा आसमान छू रहा है। दरभंगा से दिल्ली जाने वाली 22 जून की दो उड़ान के लिए लोगों को क्रमश: 14070 व 17895 रुपए देकर टिकट बुक कराना पड़ रहा है। वहीं कई यात्रियों को दिल्ली से आने वाली उड़ान में क्रमश: 11656 व 13540 रुपयेभाड़ा देकर दरभंगा तक की यात्रा करनी पड़ रही है। दरभंगा से दिल्ली की यात्रा 23 जून को करना भी यात्रियों के लिए काफी महंगा पड़ रहा है। फिलहाल वहां से आने वाली दो उड़ान में क्रमश: 11026 व 11911 रुपए में टिकट बुक हो रहा है। वहीं 23 जून को दरभंगा से दिल्ली तक की यात्रा के लिए यात्रियों को 9450 रुपए खर्च करने पड़ रहे हैं। वहीं दूसरी ओर 22 जून को दरभंगा से मुंबई जाने वाली दोनों फ्लाइट का भाड़ा 10 हजार के पार हो गया है। दोनों दिनों के लिए फिलहाल 8400 रुपए में टिकट उपलब्ध है। दरभंगा से 23 जून को मुंबई तक की यात्रा के लिए भी 8400 रुपए में टिकट उपलब्ध है।

Share

Check Also

पार्षदों के आंदोलन के बाद कचरा उठाव टैक्स में हुआ बदलाव।

दरभंगा: वार्ड पार्षदों के आंदोलन के बाद दरभंगा नगर निगम द्वारा कचरा उठाव टैक्स में बदलाव क…